विदिशा

वायुसेना के हेलिकॉप्टर से रेस्क्यू ऑपरेशन कर 1783 बाढ़ पीड़ितों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया

कलेक्टर भार्गव ने बाढ़ पीड़ितों से किया संवाद

विदिशा डेस्क:

विदिशा जिले में हुई अतिवृष्टि एवं बाढ़ के कारण जिले के विभिन्न ग्रामों में बाढ़ से प्रभावित 1783 व्यक्तियों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है।
कलेक्टर उमाशंकर भार्गव ने बताया कि जिले में एनडीआरएफ की दो टीम एसडीआरएफ की तीन टीम के द्वारा भी रेस्क्यू ऑपरेशन कर बाढ़ में फंसे नागरिकों को सुरक्षित स्थलों पर पहुंचाने में सहयोग किया गया है। मंगलवार 23 अगस्त को जिले की पांच तहसील कुरवाई, बासौदा, नटेरन, विदिशा, शमशाबाद में बाढ़ प्रभावित 1783 नागरिकों को सुरक्षित स्थलों पर पहुंचाया गया है।

बाढ़ प्रभावितों के लिए तमाम बुनियादी प्रबंध सुनिश्चित किए गए हैं। वर्तमान में 18 राहत कैम्पों में तीन हजार बाढ़ पीड़ितों के लिए प्रबंध सुनिश्चित किए गए हैं, जिसमें रहना, खाना आदि आवश्यक सामग्री की पूर्ति सुनिश्चित कराई गई है।
कलेक्टर भार्गव ने बताया कि वायुसेना के हेलिकॉप्टर के द्वारा रेस्क्यू ऑपरेशन कर मंगलवार को ग्रामीण क्षेत्रों में बाढ़ में फंसे 31 नागरिकों को सुरक्षित विदिशा के एसएटीआई में बनाए गए हेलिपैड पर लाया गया यहां से इन सभी को बसों के माध्यम से विदिशा शहर में बनाए गए राहत शिविरों में पहुंचाया गया है।


कलेक्टर उमाशंकर भार्गव ने स्वयं एसएटीआई के हैलिपेड पर वायुसेना के हेलिकॉप्टर से उतरने वाले बाढ़ पीड़ितों से संवाद कर उनका हालचाल जाना। साथ ही उनके ठहरने सहित अन्य आवश्यक बुनियादी सुविधाओं की पूर्ति हेतु संचालित किए जा रहे राहत शिविरों के संबंध में जानकारी देते हुए उन्हें वहां पहुंचाने के प्रबंध सुनिश्चित किए गए हैं। हैलिपेड पर ही बाढ़ पीड़ितों को फल व भोजन के पैकेट प्रदाय कर उन सभी को बस से राहत शिविर की ओर रवाना किया गया हैं। इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ डॉ योगेश भरसट, डिप्टी कलेक्टर श्री हर्षल चौधरी, तहसीलदार श्री केएन ओझा, नायब तहसीलदार सहित अन्य विभागों के अधिकारी व मीडियाबंधु मौजूद रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!