रायपुर

भेंट-मुलाकात: लोइंग : मुख्यमंत्री ने दी लोइंग-महापल्ली में आई टी आई एवं मिनी स्टेडियम की सौगात, स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट हिन्दी माध्यम स्कूल का शुभारंभ

रायपुर डेस्क :

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज भेंट-मुलाकात के दौरान रायगढ़ जिले के ग्राम लोइंग में लोगों से मुलाकात की। मुख्यमंत्री का सर्व समाज की ओर से बांस से निर्मित पारंपरिक टोपी पहनाकर उत्साह पूर्वक स्वागत किया गया। उन्होंने महाप्रभु जगन्नाथ मंदिर में पूजा-अर्चना और मंदिर की परिक्रमा कर प्रदेशवासियों की खुशहाली की प्रार्थना की। उन्होंने छत्तीसगढ़ महतारी की पूजा-अर्चना कर ग्राम लोइंग में स्वामी आत्मानंद उत्कृष्ट हिन्दी माध्यम विद्यालय का भी शुभारंभ किया। मुख्यमंत्री ने विद्यार्थियों से चर्चा की और बैठक व्यवस्था, शिक्षकों की उपस्थिति, स्कूल में उपलब्ध सुविधाओं की जानकारी ली।

मुख्यमंत्री बघेल ने ग्रामीणों की बहुप्रतीक्षित मांग को पूरा करते हुए लोइंग-महापल्ली में आई टी आई एवं मिनी स्टेडियम के निर्माण की स्वीकृति दी। इसके अलावा निर्बाध विद्युत आपूर्ति के लिए पंडरीपानी में 132 के. व्ही. सब स्टेशन, आवागमन की सुविधा के लिए कोइलंगा नाला में पुलिया निर्माण और सिंचाई व्यवस्था के लिए बेलरिया में स्टॉप डैम निर्माण की भी घोषणा की।

मुख्यमंत्री ने उपस्थित लोगों को नवाखाई पर्व की बधाई दी। उन्होंने भंेट-मुलाकात के दौरान दोपहर का भोजन लोइंग निवासी बहादुर सिदार के घर खाया। मुख्यमंत्री ने कुष्टु: गुरु समूह लोईंग कीर्तन मंडली की पदाधिकारियों की मांग पर वाईफाई-ब्लूटूथ वाला माइक और बॉक्स उपहार स्वरूप प्रदान किया।

मुख्यमंत्री ने ग्रामीणों से चर्चा कर योजनाओं का फीडबैक लेते हुए कहा कि मैं यहां मंत्री, विधायक और अधिकारियों के साथ शासन की योजनाओं का क्रियान्वयन देखने आया हूं। उन्होंने ग्रामीणों से पीडीएस व्यवस्था, स्कूल संचालन, आंगनबाड़ी केन्द्र संचालन, शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन आदि के बारे में चर्चा की।मुख्यमंत्री से भेंट-मुलाकात के दौरान रायगढ़ की श्रीमती सायराबानो और श्रीमती अमृत बाई ने पीडीएस व्यवस्था की प्रशंसा करते हुए बताया कि उन्हें राशन दुकान से पात्रता अनुसार चावल, शक्कर समय पर मिलता है। राशन लेने में किसी भी प्रकार की परेशानी नहीं होती है। मुलाकात के दौरान कृषक शिवराज पटेल ने किसान हितैषी योजनाओं के लिए राज्य सरकार के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा कि राजीव गांधी किसान न्याय योजना के तहत उन्हें दूसरी किश्त के रूप में 20 हजार रुपए की राशि मिल गई है। वे गोधन न्याय योजना के तहत गांव के गौठान में गोबर भी बेचते हैं, जिससे उन्हें अतिरिक्त लाभ मिलता है। इसी प्रकार विनोद कुमार गुप्ता ने बताया कि उद्यानिकी विभाग के सहयोग से वे चार एकड़ में एपल बेर, केला, आम और पाम की खेती कर रहे हैं। घर में 10-12 गाय हैं, वे गोबर भी बेचते हैं। इसके अलावा वे छह एकड़ में धान की खेती भी करते हैं।

मुख्यमंत्री से चर्चा करते हुए श्रीमती जाह्नवी प्रधान ने बताया कि उनके समूह द्वारा  गौठान में वर्मी कंपोस्ट बनाया जाता है और मुर्गीपालन भी कर रहे हैं। शासकीय योजना के तहत स्व-रोजगार के लिए गौठान समिति को दो आटा चक्की भी मिला है। उन्होंने राज्य की महिलाओं को रोजगार के नए अवसर उपलब्ध कराने के लिए मुख्यमंत्री को धन्यवाद दिया। कोटाभर्री निवासी गुरुदेव प्रधान ने मुख्यमंत्री हाट बाजार क्लिनिक योजना की तारीफ करते हुए कहा कि इस योजना से वे मधुमेह का निःशुल्क इलाज करवा रहे है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने उत्कल समाज की महिलाओं के आग्रह पर उनके साथ सेल्फी ली और उन्हें नुआखाई पर्व की बधाई भी दी।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!