ग्वालियर

महिला सुरक्षा पर सवाल : बदमाश ने गले पर झपट्‌टा मारा, चेन खींच ले गया

पुलिस को 24 घंटे बाद मिले CCTV कैमरे के फुटेज

मैं, विंडसर हिल्स में निवास करती हूं। रोज की तरह रविवार सुबह मॉर्निंग वॉक के लिए गई थी। कलेक्ट्रेट रोड की तरफ से निकली थी, वापस आते समय में अभी विंडसर हिल्स रोड व MPCT कॉलेज के पास से गुजर रही थी। तभी एक व्यक्ति ने पीछे से मेरी तरफ आकर झपट्‌टा मारा और मेरे गले से सोने की चेन, पैंडल खींचकर आगे की तरफ भागा। करीब 70 से 80 मीटर की दूरी पर उसका एक साथी बाइक लेकर खड़ा था, जिसके साथ बैठकर वह मॉडल टाउन की ओर भाग गए।

मैंने भी उनका पीछा किया, लेकिन वह बाइक की स्पीड बढ़ाकर निकल गए। चेन छीनने वाला व्यक्ति का हुलिया रंग सांवला, इकहरा बदन व नई उम्र का व्यक्ति था। खरगोन कलेक्टर शिवराज वर्मा की पत्नी पुष्पा सिंह ने पुलिस अफसरों को इस तरह आपबीती सुनाई है।

पुलिस को 24 घंटे बाद मिले CCTV कैमरे के फुटेज
इस मामले में पूरी ग्वालियर पुलिस हिली हुई है। कलेक्टर की पत्नी से चेन लूट के बाद महिलाओं की सुरक्षा को लेकर सवाल खड़े होना लाजमी है। वारदात के बाद से पुलिस लगातार इस इलाके में लगे CCTV कैमरे खंगाल रही है। पुलिस किसी भी तरह बदमाशों के आने जाने के रूट का पता करना चाहती है। आखिरकार घटना के 24 घंटे बाद पुलिस काे सफलता मिल गई है। घटना स्थल के पास रास्ते पर लगे CCTV कैमरों से दो फुटेज मिले हैं। जिसमें बाइक पर सवार दो लुटेरे नजर आए हैं। यह MPCT कॉलेज के पास रोड पर जाते दिख रहे हैं। इसके साथ ही वहां आते भी दिख रहे हैं। अब पुलिस आगे के CCTV कैमरे भी खंगाल रही है जिससे इनका रूट मैप बनाया जा सके।
मुरार इलाके में सबसे ज्यादा लूट, लश्कर में कम
ग्वालियर में महिलाओं की सुरक्षा की बात करें तो बीते दो महीने में सबसे ज्यादा असुरक्षित इलाका मुरार थाना का माल रोड और सिंहपुर रोड रही है। मुरार में चार लूट की वारदात हो चुकी हैं। जिनमें बदमाशों ने चेन और मंगलसूत्र लूटे थे, वो बात अलग है कि पुलिस इन मामलों का खुलासा कर चुकी है। इसके अलावा थाटीपुर, महाराजपुरा, गोला का मंदिर, विश्वविद्यालय थाना का सिटी सेंटर व कलेक्ट्रेट एरिया में वारदात हो चुकी हैं। बीते दो महीने में कहां कितनी हुईं लूट की वारदातें।

 


थाना क्षेत्र लूट की वारदात
मुरार 04
महाराजपुरा 01
गोला का मंदिर 01
थाटीपुर 01
पुरानी छावनी 01
विश्वविद्यालय 01
लश्कर सर्कल 00
हाइवे से जुड़े इलाके करते हैं टारगेट
बाइक सवार लुटेरों ने ग्वालियर में जितनी भी वारदात को अंजाम दिया है उनमें एक बार कॉमन है। उन्होंने शहर के उन इलाकों को चुना है जहां से हाइवे या बायपास 4 से 5 किलोमीटर की दूरी पर है। जिसके बाद लूट की वारदात को अंजाम देकर यह बदमाश हाइवे का उपयोग कर शहर से बाहर या अन्य दूसरे इलाकों में चले जाते हैं। पिछले महीने ही पुलिस ने मुरैना के बानमोर इलाके के बदमाशों का एक गिरोह पकड़ा था। जिनसें पांच वारदातें खुली थीं। गिरोह ने कुबूल किया था कि वह वारदात करने के बाद हाइवे पकड़कर बानमोर मुरैना पहुंच जाते थे। यहां पुलिस वारदात के बाद नाकाबंदी कर CCTV कैमरे खंगालती रह जाती थी।
दो टीमें बदमाशों की तलाश में लगाई
कलेक्टर की पत्नी से लूट का पता चलते ही पुलिस अफसर मौके पर पहुंचे और बदमाशों की तलाश के लिए एक टीम विश्वविद्यालय थाने से और दूसरी टीम क्राइम ब्रांच की लगाई है। दोनों टीमों ने अभी तक 25 से ज्यादा पॉइंट पर CCTV कैमरे खंगाल लिए हैं। कुछ जगह पर लुटेरे बाइक के साथ नजर आए हैं।
डेढ तोला वजनी है चेन
पुष्पा सिंह ने बताया कि चेन लुटने वाला एकहरे बदन का सांवले रंग का नई उम्र का बदमाश था और उसके द्वारा लूटी गई चेन करीब डेढ़ तोला वजनी थी। उसमें सोने का पेंडल भी था। वह आरोपी को सामने से देखेंगी तो पहचान लेंगी।
पुलिस का कहना
इस मामले में सीएसपी रत्नेश तोमर का कहना है कि लुटेरों को जल्द पकड़ लिया जाएगा। पुलिस CCTV खंगाल रही है। कुछ जगह उपस्थिति मिली है। पुलिस की अलग-अलग टीमें काम कर रही हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!