इंदौर

दिग्विजय का सिलावट पर पलटवार, कहा- हां भाजपा-संघ के लिए मैं कोरोना वायरस हूं: भाजपा पर लगाया वोटर लिस्ट में हेरफेर करने का आरोप

इंदौर डेस्क :

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने मंत्री तुलसी सिलावट के कोरोना वाले बयान पर पलटवार किया है। उन्होंने कहा- हां, मैं भाजपा और संघ के लिए कोरोना वायरस ही हूं। ​​तुलसी सिलावट क्या थे, ये इंदौर के लोग जानते हैं। क्या थे वो? अब क्या हैं, कहां से आया? कौन सा धंधा चलता है तुलसी सिलावट का? ये उनसे पूछिए कि आपका इतना बड़ा धंधा कहां से हो गया। कहां से इतना पैसा आया?

दिग्विजय सिंह ने बुधवार को ये बात इंदौर में कही। यहां उन्होंने कांग्रेस सेवादल के गुरुवार से शुरू होने जा रहे प्रशिक्षण वर्ग का निरीक्षण किया। बता दें कि चार दिन पहले तुलसी सिलावट ने दिग्विजय सिंह को कांग्रेस का कोरोना बताया था।

सिलावट ने कहा था- दिग्विजय को चीन में जन्म लेना था

प्रदेश के जल संसाधन मंत्री तुलसी सिलावट ने पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह को लेकर टिप्पणी की थी। उन्होंने कहा था कि दिग्विजय सिंह को कांग्रेस का कोरोना बताते हुए कहा था कि कोरोना की उत्पत्ति चीन से हुई है, इसलिए सिंह को भी चीन में ही जन्म लेना चाहिए था। सिलावट ने यह बयान तब दिया था, जब हाल ही में उज्जैन पहुंचे दिग्विजय सिंह ने केंद्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया को लेकर कहा था- हे महाकाल, कांग्रेस में दूसरा सिंधिया पैदा ना हो। इसी के बाद से सिंधिया समर्थक मंत्रियों ने दिग्विजय सिंह पर जुबानी हमले के साथ ट्विटर पर हमले बोले थे।

दिग्विजय को लेकर पिछले पांच दिन में ऐसे चले बयानों के तीर…

  • 21 अप्रैल को उज्जैन में प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान दिग्विजय सिंह ने सिंधिया के लिए कहा था कि “हे महाकाल… कांग्रेस में अब कोई दूसरा ज्योतिरादित्य सिंधिया पैदा मत करना”
  • जवाब में सिंधिया ने भी अपने ट्विटर हैंडल पर जवाब में लिखा था कि “हे प्रभु महाकाल… दिग्विजय सिंह जैसा देश विरोधी भारत में पैदा ना हो।”
  • 21 अप्रैल को ही तुलसी सिलावट ने भी एक ट्वीट किया था – जिसमें उन्होंने लिखा था कि हे महाकाल, ब्रह्मांड में दिग्गी राजा जैसा तत्व सूक्ष्म रूप में भी कहीं जन्म ना लें। धर्म, समाज, देश, मनुष्यता की रक्षा करो हे राजाधिराज।
  • 23 अप्रैल को भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय भी उज्जैन आए थे। यहां भगवान महाकाल के दर्शन करने के बाद उन्होंने दिग्विजय के सिंधिया पर दिए गए बयान को लेकर कहा था कि पता नहीं यहां आकर दिग्विजय सिंह की मति कैसे भ्रष्ट हो गई। साथ ही उन्होंने दोनों नेताओं को भाषा की मर्यादा रखने की सलाह भी दी थी।

दिग्विजय बोले- भाजपा वोटर लिस्ट में हेरफेर करती है

कांग्रेस सेवादल के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री ने भाजपा पर मतदाता सूची में हेरफेर करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा- भाजपा वोटर लिस्ट में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी करती है। इस गड़बड़ी को पकड़ना होगा। BLO (ब्लॉक लेवल ऑफिसर) भाजपा के नेता बनकर काम कर रहे हैं। जो कि हाई स्कूल भी पास नहीं हैं। वोटर लिस्ट में नाम काटने और जोड़ने का काम BLO के पास ही होता है।

दिग्विजय ने कहा कि 20 साल के कुशासन को जनता अब उखाड़ फेंकने वाली है। कांग्रेस को लोग पसंद करने लगे हैं। फसल पक गई है। समय रहते काट लें, नहीं तो चोर फसल चोरी कर निकल जाएगा।

भाजपा के पूर्व सांसद बृजभूषण पर लगाए गंभीर आरोप

दिग्विजय सिंह ने दिल्ली के जंतर-मंतर पर महिला पहलवानों के आंदोलन का जिक्र करते हुए भाजपा के पूर्व सांसद व भारतीय कुश्ती संघ के अध्यक्ष बृजभूषण शरण सिंह पर गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि युवा कांग्रेस की एक लड़की कांग्रेस के ही नेता के खिलाफ बयान देती है और तो FIR हो जाती है। राहुल गांधी जब अपने बयान में एक लड़की का जिक्र करते हैं तो पुलिस उनसे पूछताछ करने पहुंच जाती है, लेकिन जब देश की महिला रेसलर जिनको खुद प्रधानमंत्री ने सम्मानित किया है, जिन्होंने देश का झंडा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लहराया था। जब वह यौन शोषण का आरोप भारतीय जनता पार्टी के पूर्व सांसद बृजभूषण सिंह पर लगाती हैं तो उसके खिलाफ FIR क्यों नहीं दर्ज हुई। इसलिए क्योंकि वो भाजपा का नेता है। इसको हम बर्दाश्त नहीं करेंगे। कांग्रेस इस मामले में महिला पहलवानों के हक की लड़ाई लड़ती रहेगी।

इधर, दिग्विजय के खिलाफ मानहानि केस में भोपाल की विशेष कोर्ट ने तय किए आरोप

पूर्व मुख्यमंत्री और राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह के खिलाफ मानहानि मामले में भोपाल की MP MLA विशेष कोर्ट ने आरोप तय किए हैं। मामले में बुधवार को हुई सुनवाई के दौरान दिग्विजय सिंह कोर्ट में उपस्थित नहीं हुए। उनके वकील कोर्ट के समक्ष पक्ष रखा।

दरअसल, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने उनके खिलाफ मानहानि का केस दर्ज कराया था। वीडी शर्मा ने कोर्ट में बताया था कि दिग्विजय सिंह ने 4 जुलाई 2014 को आरोप लगाया था। कहा था कि वीडी शर्मा ABVP के महामंत्री रहे हैं। उन्होंने व्यापमं घोटाले में बिचौलिए का काम किया है। वीडी शर्मा ने कहा था कि इस बयान से उनकी छवि धूमिल हुई है। बता दें कि कोर्ट ने 5 दिसंबर 2022 को धारा 500 के तहत दिग्विजय सिंह पर केस दर्ज किया था। मामले में दिग्विजय जमानत ले चुके हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!