भोपाल

प्रदेश में आज 31 अगस्त को मनाया जायेगा विमुक्ति दिवस, विमुक्त जाति के सशक्तिकरण के लिये सरकार कर रही बड़ी राशि खर्च

विमुक्त जाति के कल्याण के लिये चलाये जा रहे हैं कार्यक्रम

भोपाल डेस्क : 

प्रदेश में आज 31 अगस्त विमुक्ति दिवस के रूप में मनाया जायेगा। दिन विमुक्त, घुमक्कड़ एवं अर्द्धघुमक्कड़ जनजातियो के लिए जिला मुख्यालयों पर कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे। कार्यक्रम के संबंध में विभाग द्वारा जिला कलेक्टर को दिशा-निर्देश जारी किये गये है।

आज विद्यालयों, छात्रावास, आश्रम और सामुदायिक कल्याण केन्द्रों में निबंध लेखन, चित्रकला, वाद-विवाद, प्रतिस्पर्धा, खेलकूद प्रतियोगिता के साथ पारम्परिक कलाओं की प्रतियोगिता आयोजित की जाएगी।

देश में वर्ष 1857 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम के बाद ब्रिटिश सरकार ने अनेक जनजातियों को उनकी स्वतंत्रता संग्राम में भूमिका के कारण आपराधिक प्रवृत्ति का घोषित कर दिया था। इनमें अनेक जनजातियाँ विमुक्त थीं। देश के स्वतंत्र होने के बाद 31 अगस्त 1952 को इन जनजातियों के ऊपर से यह काला कानून संसद में एक बिल पास कर हटा दिया था। तब से 31 अगस्त को विमुक्ति दिवस के रूप में मनाया जाता है। मध्यप्रदेश में 21 जनजातियां विमुक्त के रूप में जानी जाती हैं। राज्य सरकार विमुक्त जनजातियों के आर्थिक, सामाजिक एवं शैक्षणिक सुधार के लिये लगातार कार्य कर रही है। विमुक्त जाति के सशक्तिकरण के लिये वर्ष 2021-22 से अगले पाँच वर्षों में चार घटकों शैक्षणिक सशक्तिकरण, स्वास्थ्य, आजीविका और भूमि विकास के कार्यक्रमों पर 200 करोड़ रूपये से अधिक की राशि खर्च की जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!