भोपाल

शिवराज कैबिनेट ने दी मंजूरी मध्यप्रदेश में खुलेंगे 7 विश्वविद्यालय, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिवस से प्रदेश भर में चलाया जायेगा विशेष अभियान

मध्यप्रदेश में 7 नए विश्वविद्यालय खोले जाएंगे। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की मीटिंग में इन विश्वविद्यालयों को खोले जाने की मंजूरी दी गई है। मध्यप्रदेश निजी विश्वविद्यालय संशोधन विधेयक 2022 के जरिए यह मंजूरी दी गई है। साथ ही मध्यप्रदेश में योग आयोग का गठन करने को भी मंजूरी दी गई है। माइनिंग राजस्व की बकाया राशि पर ब्याज माफ करने पर सहमति मिली है। बकायेदारों को बकाया राशि जमा करने के बाद दोबारा खदान चलाने की परमिशन मिल सकेगी। खाद्य विभाग में कम्प्यूटर ऑपरेटर की भर्ती को भी मंजूरी देने के साथ ही पुराने हेलीकॉप्टर के पार्ट्स को बेचने की सहमति कैबिनेट ने दी है। और इसके साथ ही थॉमस कप में अपना दम दिखाने वाले बैडमिंटन खिलाड़ी प्रियांशु राजावत को 10 लाख रुपए की प्रोत्साहन राशि देने का भी फैसला लिया गया है।

यह विश्वविद्यालयों को कैबिनेट से मिली मंजूरी

01. टाइम्स यूनिवर्सिटी भोपाल 02. प्रेस्टीज यूनिवर्सिटी इंदौर 03. एलएनसीटी यूनिवर्सिटी इंदौर 04. विक्रांत विश्वविद्यालय ग्वालियर 05. आर्यावर्त यूनिवर्सिटी सीहाेर 06. डॉ. प्रीति ग्लोबल यूनिवर्सिटी शिवपुरी 07. अमलतास यूनिवर्सिटी देवास

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिन से चलाया जायेगा अभियान

मध्यप्रदेश में संचालित केन्द्र और राज्य सरकार की योजनाओं से अब तक छूटे पात्र हितग्राहियों को खोजने के लिए अभियान चलाया जाएगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मीटिंग के पहले वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से सभी मंत्रियों और जिलों के अफसरों को इस संबंध में निर्देश दिए। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन 17 सितंबर 2022 से 31 अक्टूबर 2022 तक हितग्राही मूलक योजनाओं में संतृप्तिकरण का एक विशेष प्रदेश स्तरीय अभियान चलाया जाएगा। इस अभियान में केन्द्र और राज्य सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं को शामिल किया जाएगा।

फ्लैगशिप योजनाएं

प्रधानमंत्री आवास योजना (शहरी एवं ग्रामीण), जल जीवन मिशन, आयुष्मान भारत योजना, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, पीएम जीवन ज्योति बीमा योजना, स्वामित्व, पीएम किसान सम्मान निधि, भारत नेट, स्वाइल हेल्थ कार्ड, किसान क्रेडिट कार्ड (मछली पालन,कृषि,पशुपालन), अटल पेंशन योजना,पीएम स्वनिधि। उर्वरक उपलब्धता,पात्रता पर्ची वितरण,राशन वितरण, भू-माफिया से मुक्त कराई गई भूमि का व्यवस्थापन, ग्राम एवं नगर गौरव दिवस, 5 करोड़ से अधिक विकास कार्यों की प्रगति।

राष्ट्रीय विधवा पेंशन, राष्ट्रीय वृद्धावस्था पेंशन योजना, प्रधानमंत्री जनधन योजना, पीएम उज्ज्वला योजना फेस- II,प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना,प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना, मुख्यनमंत्री किसान कल्याण योजना,अमृत सरोवर योजना, संबल योजना – श्रमिक, संबल योजना – प्रसूति सहायता, मुख्यमंत्री आवासीय भू अधिकार योजना, प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास प्लस, मुख्यमंत्री विद्युत बिल राहत योजना, सीएम राइज स्कूल की प्रगति।

मुख्यमंत्री ने कहा – अभियान की जानकारी और निराकृत हुए आवेदनों की डाटा एंट्री के लिए अलग से एक पोर्टल बनाया जाएगा। सीएम ने विभागीय मंत्री को काम की समीक्षा का कहा। जिले के प्रभारी मंत्री, कलेक्टर को अभियान की रूपरेखा बनाकर क्रियान्वयन करने को कहा।

दो चरणों में चलेगा अभियान

पहला चरण – 17 सितंबर से 5 अक्टूबर 2022 : ग्राम पंचायत और वार्ड स्तर पर शिविर लगाकर हितग्राही मूलक योजना के पात्रों का चयन होगा। शिविर में ही उन्हें लाभ दिया जाएगा।

दूसरा चरण – 5 अक्टूबर से 31 अक्टूबर 2022 : ग्राम पंचायत और वार्ड में उसी स्थान पर एक बार फिर शिविर लगाएंगे। बचे हुए पात्रों को लाभ दिया जाएगा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!