नई दिल्ली

ऑनलाइन मोबाइल गेम खेलने बालो को अच्छी खबर, आजादी क्वेस्ट  मोबाइल गेम को लॉन्च: हर एक व्यक्ति जान सकेगा स्वतंत्रता संग्राम में हमारे स्वतंत्रता सेनानियों और गुमनाम नायकों के योगदान को,, केंद्रीय मंत्री ने दी जानकारी

भारत के स्वतंत्रता संग्राम की कहानी बताते हैं, जिसमें प्रमुख मील के पत्थर और नायकों को उजागर करने की कोशिश की गई है. गेम का कंटेंट ईजी, लेकिन व्यापक है। 

 नई दिल्ली डेस्क :

केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर  ने आजादी क्वेस्ट  मोबाइल गेम को लॉन्च किया है. इस गेम को आजादी के अमृत महोत्सव वर्ष के मौके पर लॉन्च किया गया है, इसका मकसद भारतीय स्वतंत्रता संग्राम की कहानी को लोगों के सामने लाना है. इस ऑनलाइन लर्निंग मोबाइल गेम्स सीरीज को जिंगा इंडिया के सहयोग से डेवलप किया गया है. गेम को लॉन्च करते हुए अनुराग ठाकुर ने कहा, “यह गेम स्वतंत्रता संग्राम में हमारे स्वतंत्रता सेनानियों और गुमनाम नायकों के योगदान को स्वीकार करने के लिए सरकार द्वारा किए गए प्रयासों की श्रृंखला में से एक है.”

सभी आयु वर्ग के लोगों को इस गेम से जोड़ा जाएगा

केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर  ने कहा कि, “ये गेम ऑनलाइन गेमर्स के विशाल बाजार में प्रवेश करने और गेम के माध्यम से उन्हें शिक्षित करने की एक कोशिश है. भारत सरकार की विभिन्न शाखाओं ने देश के कोने-कोने से गुमनाम स्वतंत्रता सेनानियों के बारे में जानकारी इकठ्ठी की है. आजादी क्वेस्ट गेम इस ज्ञान की सीख को आकर्षक और संवादात्मक बनाने की एक कोशिश है. सभी आयु वर्ग के लोगों को इस गेम से जोड़ा जाएगा और उम्मीद है कि जल्दी ही इस गेम को घर-घर में पसंद किया जाने लगेगा.”

आजादी क्वेस्ट सीरीज

आजादी क्वेस्ट के पहले दो गेम भारत के स्वतंत्रता संग्राम की कहानी बताते हैं, जिसमें प्रमुख मील के पत्थर और नायकों को उजागर करने की कोशिश की गई है. गेम का कंटेंट ईजी, लेकिन व्यापक है. इस गेम को विशेष रूप से प्रकाशन का काम संभालने वाले विभाग द्वारा क्यूरेट किया गया है. वहीं इस गेम की भारतीय ऐतिहासिक अनुसंधान परिषद के विशेषज्ञों द्वारा जांच की गई है। 

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!