रायपुर

जेईई एडवांस में प्रयास एवं एकलव्य के छात्रों का शानदार प्रदर्शन, परीक्षा में बैठे कुल 229 छात्रों में से 45 को आईआईटी-एनआईटी में प्रवेश मिलना तय, मुख्यमंत्री छात्रों को दी बधाई

रायपुर डेस्क:

आईआईटी-एनआईटी एवं केन्द्र सरकार से वित्तपोषित इंजीनियरिंग संस्थानों में प्रवेश हेतु प्रतिष्ठित जेईई परीक्षा के रविवार को घोषित परिणामों में आदिम जाति विभाग द्वारा संचालित प्रयास एवं एकलव्य के छात्रों के छात्रों ने शानदार प्रदर्शन किया है। इस वर्ष जईई एडवांस 2021-22 हेतु प्रयास एवं एकलव्य आवासीय विद्यालयों के परीक्षा में बैठे कुल 217 विद्यार्थियों में से 54 ने जेईई क्वालीफाई किया है, जबकि 34 विद्यार्थियों को उनके रैंक के आधार पर आईआईटी, एनआईटी और समकक्ष इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश संभावित है।
  प्राप्त जानकारी के अनुसार दस विद्यार्थियों को प्राप्त रैंक के आधार पर देश के किसी प्रतिष्ठित आईआईटी कॉलेज में आसानी से प्रवेश होगा। इसके अलावा ड्रॉपर्स बैच के परीक्षा में बैठे कुल 12 विद्यार्थियों में से 07 न क्वालीफाई किया है तथा 01 विद्यार्थी को रैंक के आधार पर आईआईटी में प्रवेश हो जाएगा। विद्यार्थियों की इस उपलब्धि पर मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल, विभागीय मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम, सचिव आदिम जाति विभाग श्री डी.डी. सिंह एवं आयुक्त श्रीमती शम्मी आबिदी ने शुभकामनाएं देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की है।
गौरतलब है कि प्रयास एवं एकलव्य विद्यालयों में अध्ययनरत् अधिकांश बच्चे ग्रामीण एवं जनजातीय परिवेश से आते हैं। ऐसे में देश की प्रतिष्ठित जेईई एडवासं परीक्षा में इनका चयन होना निश्चित ही बहुत गर्व की बात है। रायपुर के प्रयास, बालक एवं कन्या आवासीय विद्यालय के सर्वाधिक छात्रों ने क्वालीफाई किया है। घोषित परीक्षा परिणामों में प्रयास बालक आवासीय विद्यालय, रायपुर के सर्वाधिक 18 छात्रों ने क्वालीफाई किया, जबकि 14 विद्यार्थियों को उनके रैंक के आधार पर आईआईटी, एनआईटी और समकक्ष इजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश संभावित है, साथ ही 04 विद्यार्थियों का प्राप्त रैंक के आधार पर आईआईटी में प्रवेश हो जाएगा। 
इसी प्रकार प्रयास कन्या आवासीय विद्यालय, रायपुर की 13 छात्राओं ने क्वालीफाई किया है, जबकि 05 विद्यार्थियों को उनके रैंक के आधार पर आईआईटी, एनआईटी और समकक्ष इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश संभावित है एवं 01 छात्रा का आईआईटी में आसानी से एडमिशन हो जाएगा। इसके अलावा प्रयास, बिलासपुर के 04 प्रयास, अंबिकापुर के 04, प्रयास, दुर्ग के 03, प्रयास, कांकेर के 02, प्रयास, जगदलपुर कोरबा एवं जशपुर के 01-01 छात्र ने जेईई एडवांस में क्वालीफाई किया है। इसी प्रकार प्रदेश में संचालित एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय के परीक्षा में सम्मिलित कुल 25 छात्रों में से 07 ने क्वालीफाई किया है, जबकि 06 विद्यार्थियों का उनके रैंक के आधार पर आईआईटी, एनआईटी और समकक्ष इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश संभावित है एवं 01 छात्र का आईआईटी में प्रवेश हो जाएगा।
उल्लेखनीय है कि प्रयास आवासीय विद्यालयों में कक्षा 9वीं में राज्य स्तरीय प्रवेश परीक्षा के माध्यम से चयन होता है तथा इसमें कक्षा 9वीं से 12वीं तक उत्कृष्ट शिक्षा की व्यवस्था है। इसका उद्देश्य विद्यार्थियों को राष्ट्रीय स्तर की उत्कृष्ट शिक्षण संस्थाओं में प्रवेश करने हेतु सक्षम बनाना है। इन विद्यालयों से अब तक 97 विद्यार्थी भारतीय प्रौद्योगिक संस्थान, 261 विद्यार्थी राष्ट्रीय प्रौद्योगिक संस्थान एवं 44 विद्यार्थियों ने राज्य के मेडिकल कॉलेजो में एमबीबीएस पाठ्यक्रम में प्रवेश प्राप्त कर विशेष उपलब्धि हासिल की है। 
इसके अलावा सी. ए. सी.एस., सी.एम.ए. में 29 तथा क्लेट में 03 विद्यार्थी प्रवेश प्राप्त करने में सफल रहे हैं। साथ ही राज्य के विभिन्न इंजीनियरिंग कॉलेजों में अब तक 833 विद्यार्थी प्रवेश प्राप्त करने में सफल रहे हैं। वर्तमान में प्रदेश के रायपुर में 02, दुर्ग, बिलासपुर अंबिकापुर कोरबा, जशपुर कांकेर तथा जगदलपुर में 1-1 इस तरह कुल 9 प्रयास आवासीय विद्यालय संचालित किए जा रहे हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!