ग्वालियर

होली की मध्यरात्रि में दुर्गा ने दिया नन्हे टाइगरों को जन्म: आइसोलेशन में रहेंगे 40 दिन

ग्वालियर डेस्क :

ग्वालियर के चिड़ियाघर में होली की रात ( सोमवार-मंगलवार दरमियानी रात) नन्हे मेहमानों के शोर ने खुशियां ला दीं। चिड़िया घर में मादा टाइगर दुर्गा ने दो शावकों को जन्म दिया है। दोनों शावकों की किलकारी से पूरा चिड़ियाघर गूंज उठा है। दोनों शावक पूरी तरह स्वस्थ्य हैं। अभी दोनों टाइगर शावक को 30 से 40 दिन तक आइसोलेशन में रखा जा रहा है।

जल्द ही दोनों नन्हे मेहमान की अपनी मां दुर्गा और पिता लव के साथ शैतानियों का सैलानी मजा ले सकेंगे। टाइगर दुर्गा पहली बार मां बनी है। इसलिए बच्चों को लेकर कुछ अक्रामक है। जू प्रबंधन के कर्मचारी उन पर पूरी नजर रखे हुए हैं। जन्मे शिशु शावकों को विशेष निगरानी में रखा गया है।
शहर के फूलबाग स्थित गांधी प्राणी उद्यान में मादा दुर्गा द्वारा होली की मध्य रात्रि को 02 शावकों को जन्म दिया है। जन्में शावक पीले रंग के हैं। दुर्गा टाइगर ने पहली बार शावकों को जन्म दिया गया है। इससे पहले मीरा नाम की टाइगर ने वर्ष 2018 में तीन शावकों को जन्म दिया था, जिसमें एक सफेद एवं दो पीले रंग के शावक थे। नर टाइगर लव से उसे यह शावक जन्मे हैं।
पांच साल पहले जहां जन्मी वहीं दिया बच्चों को जन्म
– मादा टाइगर दुर्गा की उम्र पांच साल है। इसी चिड़ियाघर में साल 2018 में उसने उसे मीरा नाम की मादा टाइगर ने जन्म दिया था। अब दुर्गा और नर टाइगर के मिलन से इसी चिड़ियाघर मंे होली की मध्य रात्रि में दुर्गा ने दो शावकों को जन्म दिया है। अब यह शावक में नर हैं या मादा यह पता नहीं चला है। यह तभी पता लगेगा जब डॉक्टर उनका परीक्षण करेंगे। धीरे-धीरे ग्वालियर के चिड़ियाघर में टाइगर परिवार का कुनवा बढ़ता जा रहा है।
टाइगर मादा के भोजन का खास ख्याल रखा गया है
मादा टाइगर दुर्गा के भोजन का खास ख्याल रखा जा रहा है। उसे खाने में मुर्गा, अंडा एवं हल्का खाना जैसे चिकन सूप, दूध आदि दिए जा रहे हैं। चिड़ियाघर में यह बच्चे लगभग 40 दिन तक विशेष निगरानी अथवा क्वारंटाइन रहेंगे। इसके बाद ही वह सैलानियों के लिए उपलब्ध हो सकेंगे। उसके बाद ही सैलानियों की मदद से ही उनका नामकरण हो सकेगा।
पल-पल की हरकत पर रखी जा रही नजर
– चिड़ियाघर प्रभारी डॉ. उपेन्द्र यादव ने बताया कि नगर निगम कमिश्नर किशोर कन्याल ने मुझे और जू क्यूरेटर गौरव परिहार को टाइगर मां और उसके शिशु शावकों के स्वास्थ्य पर विशेष निगरानी रखने के निर्देश दिए हैं। चिड़ियाघर प्रबंधन का कहना है कि दोनों शावक टाइगर स्वस्थ हैं और अपनी मां के इर्द-गिर्द ही घूम रहे हैं। हम पल-पल उनकी हरकतों पर नजर रखे हुए हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!