रायसेन

प्रसिद्ध अभिनेता और बौद्ध भिक्षु गगन मलिक के नेतृत्व में थाईलैंड और वियतनाम से आए करीब 30 पर्यटकों ने विश्व धरोहर सांची स्तूप का भ्रमण किया। विदेशी पर्यटकों को भाया सांची

पर्यटन विभाग के प्रयासों से आया सकारात्मक परिणाम

रायसेन डेस्क : 

विश्व प्रसिद्ध सांची मैं कोरोना काल के बाद फिर से पराठा को का अच्छा रुझान आना शुरू हो गया है इसी के चलते विभिन्न देशों के पर्यटक सांची बौद्ध स्तूप को देखने के लिए मध्य प्रदेश के रायसेन जिले में स्थित सांची पहुंच रहे हैं और मध्य प्रदेश सरकार भी पर्यटन के महत्व को बढ़ावा देने की हर संभव कोशिश कर रही है पर्यटन, संस्कृति और धार्मिक न्यास एवं धर्मस्व मंत्री सुश्री उषा ठाकुर और प्रमुख सचिव शिव शेखर शुक्ला के थाईलैंड, मलेशिया और कम्बोडिया दौरे के सकारात्मक परिणाम अब आने लगे है। इसी क्रम में भगवान बुद्ध और रामायण में भगवान श्रीराम का किरदार निभाने वाले प्रसिद्ध अभिनेता और बौद्ध भिक्षु गगन मलिक के नेतृत्व में थाईलैंड और वियतनाम से आए करीब 30 पर्यटकों ने विश्व धरोहर सांची स्तूप का भ्रमण किया। अपर प्रबंध संचालक टूरिज्म बोर्ड विवेक श्रोत्रिय ने सांची स्तूप की भव्यता और बुद्धत्व अध्यात्म की आभा से सभी पर्यटकों का परिचय कराया।

पहली बार भारत की यात्रा पर आए पर्यटक ले थी येन को सांची बहुत पसंद आया। उन्होंने कहा कि वह अगली बार भी सांची आना चाहेंगे। बौद्ध भिक्षु गगन मलिक ने कहा कि सभी पर्यटकों का अनुभव बहुत शानदार रहा। यह हमारी जिंदगी में न भूलने वाला पल बन गया है। आगे भी दक्षिण पूर्व एशियाई देशों से बौद्ध धर्म के अनुयायी और पर्यटक मध्यप्रदेश में पर्यटन के लिए आते रहेंगे।

उल्लेखनीय है कि मंत्री सुश्री ठाकुर ने अगस्त माह में दक्षिण पूर्व एशियाई देशों में प्रदेश के बौद्ध धर्म के महत्व के स्थानों और बुद्धिस्ट सर्किट का प्रचार-प्रसार किया था। साथ ही पर्यटकों को प्रदेश की यात्रा के लिए आमंत्रित भी किया था। मंत्री सुश्री ठाकुर पर्यटन विभाग के अधिकारियों के साथ थाईलैंड में “बुद्धभूमि भारत-बुद्ध के पद चिन्हों पर यात्रा” कार्यक्रम में शामिल हुई थी। साथ ही मलेशिया एवं कम्बोडिया में पर्यटन रोड-शो में भी भाग लिया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!