जयपुर

राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक मुख्यमंत्री रविवार को प्रदेश के पंच-सरपंच, जिला प्रमुख, मंत्री, सांसद और गौवंश कार्यकर्ताओं से करेंगे संवाद – लम्पी स्किन डिजीज रोकथाम के लिए सुबह 11.30 बजे वीसी से होगा संवाद – बाढ़ प्रभावितों तक आवश्यक सुविधाएं पहुंचाने के लिए जिला कलक्टरों को निर्देश – केंद्र सरकार को भेजा जाएगा प्रदेश में बाढ़ से हुए नुकसान का ज्ञापन

जयपुर डेस्क :

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की अध्यक्षता में मुख्यमंत्री निवास पर राज्य मंत्रिपरिषद की बैठक आयोजित हुई। इसमें लम्पी स्किन डिजीज से गौवंश को बचाने के लिए जिलों में जागरूकता अभियान चलाने और होम्योपैथी, आयुर्वेदिक एवं देशी उपचार से इम्यूनिटी बढ़ाने के उपायों पर चर्चा की गई। 

मंत्रिपरिषद में निर्णय अनुसार, मुख्यमंत्री अशोक गहलोत रविवार 28 अगस्त को सुबह   11.30 बजे प्रदेश के पंच-सरपंच, पंचायत समिति सदस्य, जिला प्रमुख, महापौर, विधायक, मंत्री, सांसद सहित अन्य जनप्रतिनिधियों, स्वयंसेवी संस्थाओं के पदाधिकारियों एवं सरकार के उच्चाधिकारियों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए संवाद करेंगे। इसमें श्री गहलोत राज्य सरकार द्वारा रोग की रोकथाम के लिए किए जा रहे प्रयासों, पशुपालकों द्वारा पशुओं के उपचार के लिए अपनाई जा रही पद्धति और जागरूक कार्यक्रमों के बारे में जानकारी लेंगे। 

जिला कलक्टर सुनिश्चित करे बाढ़ प्रभावितों के लिए व्यवस्थाएं

प्रदेश में अतिवृष्टि से हुए नुकसान और बाढ़ प्रभावितों के लिए आवश्यक व्यवस्थाओं को लेकर मंत्रिपरिषद में विस्तृत चर्चा हुई। इसमें संबंधित जिला कलक्टरों को निर्देश दिए कि क्षेत्र में जल निकासी तक और बेघर हुए लोगों के लिए अस्थाई आवास व्यवस्था, भोजन और अन्य सुविधाएं निरंतर मुहैया कराई जाए।

सार्वजनिक एवं निजी सम्पत्तियों, फसल और पशुओं को हुए नुकसान का जल्द से जल्द आंकलन कर प्रभावितों को त्वरित सहायता पहुंचाने के भी निर्देश जिला कलक्टर को दिए गए। क्षतिग्रस्त सड़कों, पुल, बिजली तंत्र को अविलंब सुधारा जाए। मंत्रिपरिषद में मुख्य सचिव को जिलों की सभी व्यवस्थाओं, राहत और बचाव कार्यों की नियमित मॉनिटरिंग और बाढ़ से हुए नुकसान का एक ज्ञापन तैयार कर केंद्र सरकार को भेजने के निर्देश दिए गए। 

राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेल 

जिलों के उद्घाटन समारोह में शामिल होंगे जिला प्रभारी मंत्री 

मंत्रिपरिषद में राजीव गांधी ग्रामीण ओलम्पिक खेल की तैयारियों और सफल आयोजन को लेकर चर्चा हुई। इसमें मुख्यमंत्री ने सभी जिला प्रभारी मंत्रियों को अपने-अपने जिलों के उद्घाटन समारोह में शामिल होकर खिलाड़ियों को प्रोत्साहित करने के लिए कहा। उल्लेखनीय है कि ग्रामीण ओलम्पिक खेल 29 अगस्त से 5 अक्टूबर तक आयोजित होंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!