जयपुर

बीच सड़क पर वकील ने पेट्रोल छिड़ककर खुद को आग लगाई: मौके पर ही मौत, सुसाइड से 6 घंटे पहले फेसबुक पर किया पोस्ट

जयपुर डेस्क :

जयपुर में रविवार शाम एक वकील ने बीच सड़क पर खुद को आग लगा ली। मौके पर ही उसकी मौत हो गई। घटना करधनी थाना इलाके में जयपुर-दिल्ली एक्सप्रेस हाईवे की है।

बचाने का मौका नहीं मिला
जानकारी अनुसार, देवेंद्र शर्मा (45) भगवा रक्षा दल से जुड़े थे। घर से निकलकर शाम करीब 5 बजे बैनाड़ पुलिया के ऊपर एक्सप्रेस हाईवे पर अपनी ऑल्टो कार से पहुंचे। कार से उतरने के बाद बोतल में रखा पेट्रोल खुद पर छिड़ कर आग लगा ली। जब तक लोग गाड़ी रोक कर उन्हें बचाने पहुंचे, तब तक वह पूरी तरह जल चुके थे।

एडिशनल कमिश्नर कैलाश बिश्नोई घटना की जानकारी मिलने पर मौके पर पहुंचे। बिश्नोई ने बताया- एफएसएल जांच के बाद शव को एसएमएस हॉस्पिटल भेज दिया गया है। घटना की जानकारी मिलने पर देवेन्द्र के भाई मौके पर पहुंचे और शव की पहचान की।

घटनास्थल से साफ दिख रहा है घर
कैलाश बिश्नोई ने बताया- जहां पर देवेन्द्र ने आत्मदाह किया, वहां से उनका घर साफ दिखाई देता है। वहां से करीब 500 मीटर की दूरी पर घर है। पुलिस इस बात की भी जांच कर रही है कि देवेन्द्र ने यही लोकेशन आत्मदाह के लिए क्यों चुनी। देवेन्द्र के मोबाइल को भी पुलिस ने जब्त कर लिया है।

खंगाली जा रही कॉल डिटेल
मोबाइल की कॉल डिटेल खंगाली जा रही है। उसी से पता चलेगा कि देवेंद्र के पास घटना से पहले किसके-किसके कॉल आए थे। उनका मूवमेंट क्या रहा था। बोतल में पेट्रोल कहां से लिया, इसकी भी पुलिस जानकारी कर रही है। आसपास के पंपों पर पूछताछ की जा रही है।

सुसाइड से 6 घंटे पहले फेसबुक पर किया पोस्ट
सुसाइड से 6 घंटे पहले देवेंद्र ने फेसबुक पर पोस्ट भी किया। इसमें लिखा- मुझे ऐसे लोगों की ज़रूरत है, जो भगवा रक्षा दल का प्रचार-प्रसार कर सकें। भगवा रक्षा दल को मजबूती प्रदान करने में आर्थिक सहायता भी कर सकते हैं। क्योंकि पद तो सबको चाहिए, लेकिन जिम्मेदारी सौंपी जाए उसको उठाने का कोई प्रयास नहीं करता है। फायदे सबको चाहिए। भगवा रक्षा दल के नाम का कुछ लोगों द्वारा गलत तरीके से इस्तेमाल किया गया। इसलिए थोड़े समय पहले मैंने समस्त कार्यकारिणी भंग कर दी थी। कुछ चुनिंदा लोगों को वर्तमान में जिम्मेदारी सौंपी गई है। वो राष्ट्रीय कार्यकारिणी सदस्य थे, इसलिए उन्हें जिम्मेदारी सौंपी गई थी। अब उसमें बदलाव की जरूरत महसूस हो रही है। जो भगवा रक्षा दल के प्रति उदासीन रहेगा, उसकी मुझे कोई जरूरत नहीं है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!