मध्यप्रदेश

जीतू पटवारी बोले-BJP की ढपली बजाने वाले कलेक्टरों से निपटेंगे: PCC चीफ ने कहा- एग्जिट पोल की पोल कुछ घंटे में खुल जाएगी

भोपाल डेस्क :

एग्जिट पोल के कांग्रेस सहित तमाम विपक्षी दल हमलावर हैं। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष जीतू पटवारी ने सोमवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस कर एग्जिट पोल पर सवाल उठाए।

कलेक्टरों की शिकायतों को लेकर जीतू पटवारी ने कहा- उन्होंने नौकरों जैसा काम किया। 5 साल कलेक्टर बने रहना है इसलिए बीजेपी की डफली बजाई। जिनकी-जिनकी डफली बजाई है, उनकी सारी लिस्ट भी है। जिन अधिकारी-कर्मचारियों ने सत्ता में रहकर जैसा-जैसा किया, उनके साथ सत्ता में रहकर ही न्याय नहीं होगा बल्कि, विपक्ष में रहकर कैसे न्याय हो सकता है, वह भी बताया जाएगा।

उन्होंने कहा- अगर उनको अच्छी पोस्टिंग चाहिए। सही जगह पर बैठे रहना है इसलिए सरकार की तूती में बोलना है। ऐसे कितने अधिकारी और कितने कलेक्टर हैं, जिन्होंने निर्वाचन आयोग के धर्म को नहीं निभाया। बीजेपी के धर्म को निभाया है, जैसे खजुराहो और जगह में हुआ। इन लोगों से सही तरीके से निपटा जाएगा।

10 साल में बेरोजगारी-महंगाई ने रिकॉर्ड बनाया

पटवारी ने कहा देश में 10 साल की ऐसी सरकार जिसने देश को सबसे ज्यादा बेरोजगारी महंगाई देने का रिकॉर्ड बनाया है। किसानों की आत्महत्या और किसानों के कर्ज में 75 साल की आजादी के बाद अकल्पनीय यातनाएं किसानों ने सहीं। समाज के हर वर्ग ने अपने आप को इन 10 सालों में परेशान होते हुए देखा है। एक तरफ कांग्रेस का घोषणा पत्र था जिसकी चर्चा लगातार विपक्ष और देश के प्रधानमंत्री करते रहे।

हमने देश में बेरोजगारी समाप्त करने महंगाई को कम करने की बात कही। अर्थव्यवस्था कैसे ऊपर उठ इसको लेकर कार्य योजना बनाई। किसानों के दर्द को वजन पत्र में शामिल किया। कोई ऐसा क्षेत्र नहीं जिसके विकास की चर्चा हमारे वचन पत्र में नहीं थी। वहीं, बीजेपी के घोषणा पत्र में क्या था, प्रधानमंत्री अगर उसकी चर्चा करें तो मीडिया का बहुत बड़ा वर्ग भी उसे नहीं बता सकता है। 70 फोटो के अलावा बीजेपी के मेनिफेस्टो में कुछ और नहीं है।

बीजेपी नेताओं ने कहा था, वह बात एग्जिट पोल में

एग्जिट पोल बनाने वालों को लेकर देश के लोगों की यह सोच बनी कि यह मैनिपुलेशन होता है। यह एक बार फिर दिखा है। जो बीजेपी के नेताओं ने कहा था, वह बात एग्जिट पोल में अच्छी है जो एग्जिट पोल आए उसकी भी अलग-अलग कहानी है। कोई पार्टी तीन सीट पर लड़ रही है, उसे 6 सीटों पर दिखा दिया। अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग विसंगतियां एग्जिट पोल में देखने को मिली।

मध्य प्रदेश में कांग्रेस की 12-13 सीटों पर अच्छी लड़ाई है। कुछ भी परिणाम हो सकते हैं। जीतने के परिणाम ज्यादा है, लेकिन एग्जिट पोल इन सारी बातों के विपरीत है। एग्जिट पोल की पोल आने वाले कुछ घंटे में खुल जाएगी। कांग्रेस पार्टी किसी भी तरह से डिमॉरलिज़ैशन नहीं है। हमने कार्यकर्ताओं को गिनती को लेकर सारी जानकारियां बताई है। हमारे सीनियर लोग चाहे मध्य प्रदेश का मामला हो, या प्रदेश कार्यालय की बात हो। जिले वार लोकसभा वार नियुक्तियां की है।

मध्य प्रदेश के हालात बहुत गंभीर

एग्जिट पोल से हमारा कार्यकर्ता हताश और निराश नहीं है। प्रदेश में चुनाव हो गए हैं, जो सत्ता में है उनकी ड्यूटी है जो कहा है वह करें। हम विपक्ष में है, और हमारे साथ जो विपक्ष को ताकत देते हैं वह बीजेपी और इस सरकार को मजबूर करें कि जो बोला वह करें। मध्य प्रदेश के हालात बहुत गंभीर है। रिजर्व बैंक ने हमें कर्ज देने से मना कर दिया। एक प्रदेश के हालात कैसे हो गए हैं? मध्य प्रदेश में क्राइम कर्ज और करप्शन की भरमार हो गई। मध्य प्रदेश सारे टोल पर रेट बढ़ गए। महंगाई बढ़ने की तैयारी तेज हो गई। हर जगह नगर निगम, नगर पालिका इनकम बढ़ाने टैक्स की प्लानिंग कर रही है।

हमें उम्मीद है कि जैसा कल राहुल गांधी जी ने 295 सीट की बात कही है। वैसी ही हमारी सरकार भी बनेगी। 295 से ज्यादा सीट कांग्रेस पार्टी की आएगी। एग्जिट पोल से हमें कोई फर्क करने वाला नहीं है। हम एक आइडियोलॉजी के साथ कांग्रेस पार्टी के विचार को जन-जन तक ले जाएंगे। राहुल गांधी के लिए कितने अपशब्द बोले गए, उनके परिवार के लिए तो एक लाख से ऊपर अपशब्दों का संग्रहण है।

महंगाई का बोलबाला है, कोविड का दौर हमने सहा

जीतू पटवारी ने कहा- आप पेट्रोल ₹60 लीटर लेते थे। अब ₹100 लीटर से ज्यादा में ले रहे हो। गैस सिलेंडर 400 का आता था। 1100 का आता है ₹1000 की साइकिल ₹10000 मिल रही है। महंगाई का बोलबाला है। कोविड का दौर हमने सहा है। घर में कोई बीमार हो जाए तो आम आदमी को कितनी परेशानी आती है। सब समझते हैं घर में बेरोजगार हैं। नशे का बोलवाला है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!