न्यूज़ डेस्क

बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने बीजेपी और आरएसएस पर निशाना साधते हुए आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के मस्जिद में जाने को लेकर संघ परिवार पर तंज कसा है

न्यूज डेस्क :

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने बीजेपी और आरएसएस पर निशाना साधते हुए आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत के मस्जिद में जाने को लेकर संघ परिवार पर तंज कसा है. मायावती ने ट्वीट करते हुए कहा कि खुली जगह में नमाज तो योगी सरकार को सहन नहीं हो रही, मोहन भागवत को राष्ट्रपिता कहने से क्या बदलेगा?

बसपा सुप्रीमो मायावती ने ट्वीट करते हुए कहा, ‘आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत द्वारा कल दिल्ली स्थित मस्जिद/मदरसे में जाकर उलेमाओं से मुलाकात करने और फिर उनसे अपने आपको ’राष्ट्रपिता’ और ’राष्ट्र ऋषि’ कहलवाने के बाद क्या बीजेपी व इनकी सरकारों का मुस्लिम समाज व उनके मस्जिद-मदरसों के प्रति नकारात्मक रुख व बर्ताव में बदलाव आएगा?’

यूपी सरकार खुली जगह में कुछ मिनट की अकेले में नमाज़ पढ़ने की मजबूरी को भी सहन नहीं कर पा रही है तथा सरकारी मदरसों की उपेक्षा करते हुए निजी मदरसों में भी हस्तक्षेप पर उतारू है, किन्तु आरएसएस प्रमुख की इस बारे में गहरी चुप्पी के क्या मायने निकल रहे हैं इस पर भी वे जरूर गौर करें।

राज्य की योगी सरकार पर कसा तंज

मायावती ने अन्य ट्वीट में योगी सरकार पर तंज कसा, उन्होंने कहा, ‘यूपी सरकार खुली जगह में कुछ मिनट की अकेले में नमाज पढ़ने की मजबूरी को भी सहन नहीं कर पा रही है और सरकारी मदरसों की उपेक्षा करते हुए निजी मदरसों में भी हस्तक्षेप पर उतारू है, किन्तु आरएसएस प्रमुख की इस बारे में गहरी चुप्पी के क्या मायने निकल रहे हैं इस पर भी वे जरूर गौर करें।

दिल्ली के मदरसे पहुंचे थे मोहन भागवत

गौरतलब है कि गुरुवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ प्रमुख मोहन भागवत ने नई दिल्ली में अखिल भारतीय इमाम संगठन के प्रमुख डॉ उमैर अहमद इल्यासी के साथ मुलाकात की. इमाम इल्यासी से मिलने के लिए संघ प्रमुख मोहन भागवत गुरुवार को दिल्ली के कस्तूरबा गांधी मार्ग स्थित मस्जिद में उनके कार्यालय पहुंचे. मस्जिद पहुंचने के बाद वो पुरानी दिल्ली स्थित मदरसा ताज्वीदुल कुरान पहुंचे और मदरसों के बच्चों से मुलाकात की. भागवत के मस्जिद और मदरसे जाने के बाद देशभर में राजनीति तेज हो गई

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!