Uncategorized

जब CM सीधे चूल्हे के पास पहुंच गए:सतना में शिवराज ने आदिवासी बसंती के घर खाई रोटी-चने की भाजी, छोटी के घर पी चाय

सतना :

सतना में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान चुनावी दौरे के बीच खाना खाने आदिवासी बसंती के घर पहुंच गए। बसंती ने मुख्यमंत्री के लिए चने की भाजी, भर्ता और चूल्हे पर हाथ से बनी पनपथी रोटी के साथ दाल-चावल, लौकी की सब्जी और खीर बनाई थी। सीएम शिवराज के साथ सांसद गणेश सिंह, भाजपा जिलाध्यक्ष नरेंद्र त्रिपाठी तथा विधायक शरद कोल ने भी खाने का स्वाद लिया।

सीएम कमरे से बाहर निकले और सीधे चूल्हे के पास गांव की अन्य महिलाओं के साथ बैठी बसंती के पास जा बैठे। उन्होंने भोजन की तारीफ करते हुए कहा, जो स्वाद बहनों के हाथ की बनी रोटियों में है वो कहीं नहीं, क्योंकि उसमें इनका प्रेम भी मिला है। उन्होंने पूछा कि ये हाथ की रोटियां कैसे बनाती हैं। बसंती ने बताया कि गूंथे आटे को हाथ से गोल आकार दिया जाता है। उसकी मोटाई ज्यादा रखी जाती है और उसे आग पर पकाया जाता है। उन्होंने महिलाओं से उनकी समस्याएं पूछीं और कहा इन पर ध्यान जरूर दिया जाएगा।

चूल्हे के पास बैठकर बसंती से बात करते सीएम। - Dainik Bhaskar

चूल्हे के पास बैठकर बसंती से बात करते सीएम।

और लगा लिया गले
मंगलवार को चुनावी प्रचार के दौरान सीएम आदिवासी बसंती के घर पहुंचे थे। यहां खाने के बाद सीएम चलने को उठ खड़े हुए तो बसंती उनके पैरों पर झुक गई। शिवराज ने उन्हें उठाया और गले से लगा लिया। बसंती ने बताया कि पहला मौका है जब कोई सीएम गांव में आया है। यह उनके जीवन का यादगार क्षण है जब मुख्यमंत्री शिवराज उनके घर आए, खाना खाया और इतनी देर तक बैठ कर उनसे बात की। बसंती ने कहा- चूल्हे से बनी रोटी का स्वाद अलग ही होता है, इसलिए उन्होंने भोजन गैस चूल्हे पर नहीं पकाया।

सीएम ने बसंती को गले लगाया। - Dainik Bhaskar

सीएम ने बसंती को गले लगाया।

छोटी के घर पी चाय

बसंती के घर भोजन करने के बाद मुख्यमंत्री जनपद सदस्य छोटी कोल के घर भी पहुंचे। वहां उन्होंने चाय पी, लोगों का कुशलक्षेम पूछा। सीएम के स्वागत के लिए यहां सिर पर मंगल कलश लिए कन्याएं खड़ी थीं तो मुख्यमंत्री के गांव में आगमन पर स्थानीय लोग ढोल बजाकर खुशी में नाच रहे थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!