गुना

कलेक्‍टर फ्रेंक नोबल ए. की अध्‍यक्षता में बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ एवं महिलाओं से संबंधित कानूनी प्रकरणों से संबंधी समन्‍वय समिति की बैठक

गुना :

कलेक्‍ट्रेट सभाकक्ष गुना में जिला बाल संरक्षण समिति, बेटी बचाओ बेटी पढाओं योजना जिला टास्‍क फोर्स समिति एवं महिलाओं से संबधित कानूनी प्रकरणों से संबधित समन्‍वय समिति की बैठक कलेक्‍टर फ्रेंक नोबल ए. की अध्‍यक्षता में सम्‍पन्‍न हुई। जिला बाल संरक्षण समिति की समीक्षा में कलेक्‍टर द्वारा निर्देश दिये गये कि जो बच्‍चे भिक्षावृत्ति में संलग्‍न पाये गये थे बाल कल्‍याण समिति के द्वारा उनके माता-पिता को सुपुर्द किया गया है, वह बच्‍चे स्‍कूल जा रहे या नही इसकी प्रतिदिन मॉनी‍टरिंग कराने के निर्देश जिला कार्यक्रय अधिकारी महिला बाल विकास को दिये गये। गुना जिले में 41 बच्‍चों को शासकीय स्‍पॉन्‍सरशिप एवं 67 बच्‍चों को जन सहयोग से निजी स्‍पॉन्‍सरशिप से लाभान्वित किया जा रहा है। छूटे हुये बच्‍चों को निजी स्‍पॉन्‍सरशिप से जोड़ने हेतु जन सहयोग से सहयोग लेने की अपील की गई है। बेटी बचाओ बेटी पढाओं योजना की समीक्षा के दौरान कलेक्‍टर ने निर्देश दिये गये कि जिन विकासखण्‍डों में जन्‍म के समय शिशु लिंगानुपात कम है, वहॉ के परियोजना अधिकारी आईसीडीएस एवं ब्‍लॉक मेडीकल ऑफीसर अध्‍ययन कर रिपोर्ट प्रस्‍तुत करें, कि जन्‍म के समय शिशु लिंगानुपात कम होने का क्‍या कारण है, ताकि उक्‍त विषय पर आगामी रणनीति बनाकर कार्यवाही की जा सके। साथ ही मुख्‍य चिकित्‍सा एवं स्‍वास्‍थ्‍य अधिकारी गुना को निर्देश दिये गये कि गुना जिले में संचालित सोनोग्राफी सेंटरों के संचालको की बैठक आयोजित की जावे। किसी भी प्रकार के लिंग चयन की शिकायत प्राप्‍त होने पर कठोर कार्यवाही की जावेगी।  बेटी बचाओ बेटी पढाओं योजना की वित्‍तीय वर्ष 2021-22 की भारत सरकार से स्‍वीकृत कार्ययोजना अनुसार कार्यक्रम आयोजित करने हेतु जिला कार्यक्रम अधिकारी को निर्देश दिये गये। बाल विवाह की रोकथाम हेतु शहरी क्षेत्र में अनुविभागीय अधिकारी राजस्‍व की अध्‍यक्षता में तथा ग्रामीण क्षेत्र में तहसीलदार की अध्‍यक्षता में समिति गठित की गई है। समिति को बाल विवाह रोकथाम हेतु प्रचार प्रसार एवं कार्यवाही करने के निर्देश दिये गये। समिति आपस में समन्‍वय बना कर कार्य करें। बैठक के दौरान वन स्‍टॉप सेंटर की समीक्षा के दौरान निर्देश दिये गये कि पुलिस से संबधित कोई भी समस्‍या हो तो प्रशासक वन स्‍टॉप सेंटर सी.एस.पी. गुना आकाश अमलकर से सम्‍पर्क कर निराकरण करावे। बैठक में बाल कल्‍याण समिति के अध्‍यक्ष अनुसुईया रघुवंशी, बाल कल्‍याण समिति के सदस्‍य सतीश आरोरा, संगीता सिंह, मधु शर्मा, मेघा रावत एवं जिला विधिक सहायता अधिकारी दीपक शर्मा, जिला अभियोजन अधिकारी रविकांत दुबे, सी.एस.पी. गुना आकाश अमलकर, डी.एस. जादौन जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास, जिला सयोजक आदिम जाति कल्‍याण विभाग राजेन्‍द्र जाटव, आशीष टाटिया एडीपीसी, रेखा सक्‍सेना प्रभारी प्रशासक वन स्‍टॉप सेंटर एवं अन्‍य अधिकारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!