विदिशा

स्वास्थ्य विभाग की मोबाइल टीम ने दुकान-दुकान पहुंच कर किया टीकाकरण

विदिशा :-

कलेक्टर उमाशंकर भार्गव के निर्देशन में जिले में ज्यादा से ज्यादा टीकाकरण हो सके व कोई भी हितग्राही टीकाकरण से वंचित ना रह जाए इसके लिए सतत प्रयास किए जा रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग के अमले द्वारा गांव-गांव में घर-घर दस्तक देकर आमजनों का टीकाकरण किया जा रहा है। वहीं आज सोमवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा मोबाइल टीम गठित कर बाजार में वैक्सीनेशन के लिए अभियान चलाया गया है जिसमें कई हितग्राहियों का वैक्सीनेशन किया गया है।
   नगर के बाजार में वैक्सीनेशन के लिए चलाए गए अभियान में शहर के जनप्रतिनिधियों, व्यापारियों गणमान्य नागरिकों ने भी सहभागिता निभाई है। पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष मुकेश टंडन द्वारा व्यापारियों व स्वास्थ्य विभाग की टीम के साथ बाजार में पहुंचकर आमजनों को टीकाकरण कराने के लिए प्रेरित किया है। इस दौरान आमजनों से टीकाकरण के प्रथम व द्वितीय डोज की जानकारी भी ली गई। जिन नागरिकों का द्वितीय डोज का वैक्सीनेशन रह गया था। स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा मौके पर ही उनका टीकाकरण किया गया है। नगर के माधवगंज चौराहा से लेकर मुख्य बाजार में वैक्सीनेशन के लिए विशेष अभियान चलाया गया है। वैक्सीनेशन कराने के साथ ही आमजनों को मास्क लगाने के लिए प्रेरित भी किया गया है।
    मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ एपी सिंह के दिशा निर्देश अनुसार जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ डीके शर्मा के समन्वय से डॉ गजेंद्र बघेल के नेतृत्व एवं विदिशा के स्वयंसेवी संस्थाओं, व्यापारियों, सामाजिक संगठनों तथा शहर के गणमान्य नागरिकों के सहयोग से शहर में स्वास्थ्य विभाग द्वारा टीकाकरण की मोबाइल टीम तैयार कर नगर की दुकान-दुकान पर जाकर कोविड-19 से बचाव हेतु टीके लगाए गए हैं। जिसमें टीकाकरण कार्य एएनएम सीमा रावत एवं किरण पांचाल द्वारा किया गया है। इस दौरान जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ डीके शर्मा द्वारा भी आमजनों को टीके लगाए गए हैं। वेरिफिकेशन का कार्य प्रतीक द्वारा किया गया। टीकाकरण कार्य के सुचारू रूप से संचालन में प्रभारी राजेश अहिरवार एवं जीवनराम चंदेल द्वारा महत्वपूर्ण भूमिका निभाई गई। टीकाकरण कार्य के साथ एक वाहन द्वारा प्रचार-प्रसार कर लोगों को टीकाकरण की सूचना दी गई। आज चलाए गए वैक्सीनेशन अभियान से लाभांवित हुए वे हितग्राही प्रशंसित नजर आए जो अपने व्यापारिक संस्थानों के कामकाज की वजह से टीकाकरण केंद्रों पर नहीं पहुंच पा रहे थे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!