रायसेन

शिक्षकों तथा स्कूली छात्रों को दुर्घटनावश आग लगने पर बचाव के संबंध में दिया गया प्रशिक्षण

रायसेन :-

सॉची जनपद के ग्राम जमुनिया के शासकीय स्कूल में वेलस्पन कार्प लिमिटेड द्वारा दुर्घटनावश आग लगने पर किए जाने वाले बचाव के संबंध में जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिसमें शिक्षकों, ग्रामीण तथा स्कूली छात्र-छात्राओं को आग लगने के कारण जानमाल की हानि को रोकने और अपने साथ अन्य लोगों को सुरक्षित रखने के संबंध में प्रशिक्षण दिया गया।
   प्रशिक्षण के दौरान बताया गया कि आग लगने के लिए तीन कारक ईंधन, हवा एवं गर्मी का होना जरूरी है। आग बुझाने के लिए मुख्य तौर पर बाजार में तीन प्रकार के अग्नि शामक यंत्र उपलब्ध है। तेल, गैस और बिजली से लगने वाली आग को बुझाने के लिए क्रमशः फैन अग्नि शामक, गैस अग्नि शामक एवं शुष्क केमिकल पाउडर वाले अग्नि शामक उपयोग में लाए जाते हैं। अग्नि शामक यंत्रों की प्रत्येक दो वर्ष पर जाँच करना चाहिए। एलपीजी गैस सिलेंडर की एक्सपायरी अवधि को एक विशेष कोड द्वारा लिखा जाता है। जैसे ए-21 (वर्ष 2021 का प्रथम त्रैमास), बी-21 (वर्ष 2021 का द्वितीय त्रैमास), सी-21 (वर्ष 2021 का  तृतीय त्रैमास) तथा डी-21 (वर्ष 2021 का अंतिम त्रैमास)। इस अवधि के बाद के सिलेंडर को वापिस कर देना चाहिए। कंपनी की ओर से सुरक्षा दल के सदस्यों की देखरेख में 50 से अधिक स्कूली बच्चों को जागरूक किया गया। इस प्रशिक्षण में शिक्षक एवं आंगनवाड़ी कार्यकर्ताओं ने भी भाग लिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!