भोपाल

वेंटीलेटर पर जाने से अच्छा है कोरोना की वैक्सीन लगवाना – मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान

टीका लगवाना अपनी मर्जी की बात नहीं, अब यह सामाजिक जिम्मेदारी है
टीका नहीं लगवाने के लापरवाह व्यवहार से दूसरों का जीवन खतरे में नहीं डाले
कोरोना की तीसरी लहर से बचाव के लिए सावधानियाँ अपनाना जरूरी
मास्क लगाएँ, सामाजिक दूरी का पालन करें और कोविड का टीका आवश्यक रूप से लगवाएं
प्रदेश में अब तक 9 करोड़ 91 लाख वैक्सीन डोज लग चुके हैं
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने की स्वास्थ्य कर्मचारियों, आशा-आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं के प्रयासों की सराहना
टीकाकरण केन्द्र रशीदिया स्कूल का किया अवलोकन
मुख्यमंत्री श्री चौहान की उपस्थिति में छात्राओं ने किया स्वस्तिवाचन

भोपाल : 

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि वेंटीलेटर पर जाने से अच्छा कोरोना की वैक्सीन लगवाना है। मास्क पहनना, सामाजिक दूरी का पालन करना और टीका लगवाना अपनी मर्जी की बात नहीं रही है। अब यह व्यक्ति की सामाजिक जिम्मेदारी है। हमें यह सुनिश्चित करना है कि हम अपने लापरवाह व्यवहार से दूसरे व्यक्तियों का जीवन खतरे में नहीं डाले। कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर से अमेरिका, इंग्लैंड तथा यूरोप के कई देश प्रभावित हो रहे हैं। अमेरिका में कोरोना से मरने वालों की संख्या आठ लाख से अधिक हो गई है। इन परिस्थितियों को देखते हुए कोरोना की तीसरी लहर से बचाव के लिए सावधानी जरूरी है। कोरोना की पहली और दूसरी लहर में हम सबने अपनों को खोया है। तीसरी लहर के संकट को देखते हुए यह जरूरी है कि हम जल्दी सतर्क हो जाएँ। मास्क लगाएँ, सामाजिक दूरी का पालन करें और सबसे अधिक महत्वपूर्ण है कि कोविड का टीका आवश्यक रूप से लगवाएँ।

मुख्यमंत्री टीकाकरण महाअभियान में भोपाल बरखेड़ी स्थित रशीदिया स्कूल में स्थापित टीकाकरण केन्द्र का जायजा ले रहे थे। मुख्यमंत्री ने टीकाकरण केन्द्र की व्यवस्थाओं का अवलोकन किया तथा टीकाकरण के लिए आए व्यक्तियों से टीकाकरण के संबंध में बातचीत की। चौहान ने टीकाकरण केन्द्र पर मोहम्मद आलिम कुरैशी को टीकाकरण के उपरांत आई.एम. वैक्सीनेटेड का चिन्ह भी लगाया। मुख्यमंत्री की उपस्थिति में शाला परिसर स्थित शासकीय आदर्श आवासीय कन्या संस्कृत विद्यालय (गार्गी) भोपलम् की छात्राओं द्वारा स्वस्तिवाचन किया गया। पूर्व मंत्री रामपाल सिंह भी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में अब तक 9 करोड़ 91 लाख वैक्सीन डोज़ लग चुके हैं। यदि प्रदेशवासी थोड़ा और जागरूक एवं सक्रिय रहकर टीकाकरण के लिए आगे आएंगे तो प्रदेश के सभी पात्र भाई-बहनों को सुरक्षा चक्र उपलब्ध कराने में हम सफल होंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि यह वैज्ञानिक रूप से सिद्ध हो चुका है कि टीकाकरण जिन्दगी बचाने में कारगर है। अत: टीका लगवाने में लापरवाही बरतकर अपनी जिन्दगी को खतरे में डालना कोई समझदारी नहीं है। हम सब अपने परिजन और परिचितों को टीकाकरण के लिए प्रेरित करें और यह सुनिश्चित करें कि अपने आस-पास के सभी पात्र व्यक्तियों को टीका अवश्य लगे। मुख्यमंत्री चौहान ने सभी धर्मगुरूओं, समाजसेवियों, राजनैतिक दलों से अनुरोध किया है कि वे प्रदेशवासियों को टीकाकरण के लिए प्रेरित करें। मुख्यमंत्री ने टीकाकरण अभियान में स्वास्थ्य कर्मचारियों, आशा-आँगनवाड़ी कार्यकर्ताओं द्वारा किए जा रहे निरंतर प्रयास की सराहना की।

कहा कि प्रदेश में शत-प्रतिशत टीकाकरण सुनिश्चित करने के साथ कोविड की संभावित तीसरी लहर का सामना करने के लिए अस्पतालों की व्यवस्था को भी चाक-चौबंद किया जा रहा है। अस्पतालों में ऑक्सीजन व्यवस्था, ऑक्सीजन प्लांट, बेड, दवाएँ, उपकरण, प्रशिक्षित स्टाफ आदि की व्यवस्था की जा रही है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!