मध्यप्रदेश

वीरता से कैसे दूर रह सकती हैं, वीरों की भूमि बुंदेलखंड की बेटियाँ – पर्यटन, संस्कृति और अध्यात्म मंत्री उषा ठाकुर

गो-हेरिटेज रन फ़ॉर वूमेन को मंत्री ठाकुर ने दिखाई झंडी
सेफसिटी के तहत महिला सशक्तिकरण के लिए विशेष पहल
300 से अधिक महिलाओं ने लिया हिस्सा

भोपाल : 

पर्यटन, संस्कृति और अध्यात्म मंत्री उषा ठाकुर ने कहा कि मातृ शक्ति के प्रयास से हेरिटेज फॉर रन का आयोजन हुआ है। इससे बुंदेलखंड और खजुराहो के इतिहास में पर्यटन विकास की गाथा लिखने की शुरुआत हुई है। बुंदेलखंड वीरों की भूमि है। यहाँ की बेटियाँ, वीरों और वीरता से कैसे दूर रह सकती हैं।

मंत्री उषा ठाकुर खजुराहो में रविवार की सुबह ‘गो-हेरिटेज रन फ़ॉर वूमेन’ को संबोधित कर रही थीं। ठाकुर ने एमपी टूरिज्म के रीजनल सेंटर से झंडी दिखाकर हेरिटेज रन को रवाना किया। इस 5 किलोमीटर के हेरिटेज रन में 300 से अधिक महिलाओं ने हिस्सा लिया। हेरिटेज रन की शुरुआत महिलाओं ने “पर्यटन को बढ़ाना है” के उदघोष के साथ की।

मंत्री ने कहा कि खजुराहो में पर्यटन को विकसित और आकर्षित करने के लिए प्रदेश स्तर पर अनूठे प्रयास हो रहे हैं। उन्होंने बुंदेलखंड की मातृ शक्तियों का अभिनन्दन करते हुए आत्म-निर्भर भारत के निर्माण में समाज और मातृ शक्ति के सतत समर्पित समर्थन और सहयोग की अपेक्षा की।  पर्यटन विभाग द्वारा आधार संस्था के सहयोग से महिला सशक्तिकरण के उद्देश्य से हेरिटेज रन का आयोजन किया गया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!