भोपाल

चिकित्सा शिविर पीड़ित मानवता सेवा का यज्ञ : राज्यपाल मांगू भाई पटेल

राज्यपाल नि:शुल्क चिकित्सा शिविर में शामिल हुए

भोपाल : 

राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने कहा कि चिकित्सा शिविर पीड़ित मानवता सेवा का यज्ञ है। इस यज्ञ में अपनी सेवा रूपी आहूति देने वाले सभी व्यक्ति पुण्य के पात्र है। उन्होंने कहा कि वंचितों और विपदा ग्रस्त लोगों की मदद का आयोजन, समाज सेवा की अनुपम और अनुकरणीय पहल है।

राज्यपाल आज स्व. कैलाश प्रसून फॉउण्डेशन द्वारा आयोजित नि:शुल्क चिकित्सा शिविर को संबोधित कर रहे थे। विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम और चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग भी मौजूद थे। पटेल ने शिविर आयोजन स्थल का भ्रमण किया और शिविर में आए लोगों से चर्चा की।

राज्यपाल मंगुभाई पटेल ने कहा कि चिकित्सा शिविर का आयोजन सराहनीय प्रयास है। उन्होंने शिविर आयोजन के लिए विश्वास सारंग के प्रयासों की सराहना की। उन्होंने कहा कि समाज सेवी को सदैव जरूरतमंदों और वंचितों की मदद के लिए तत्पर रहना चाहिए। विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम द्वारा विंध्य प्रदेश में शिविर आयोजित किए जाने का सुझाव, इसी भावना को प्रदर्शित करता है। उन्होंने सारंग दम्पति का स्मरण करते हुए कहा कि उनके सेवा पथ का उनकी संतान जिस समर्पण, संकल्प और सेवा भावना के साथ अनुसरण कर रही है, यह उनकी सेवा साधना का ही सुफल है। उन्होंने कामना की कैलाश प्रसून फॉउण्डेशन वंचित वर्गों के कल्याण के कार्य करते हुए निरंतर प्रगति करेगा।

विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने स्व. कैलाश सारंग का स्मरण करते हुए कहा कि गरीब कल्याण के कार्य ही सत्कर्म है। सत्कर्म करने वाला ही कर्मयोगी होता है। स्व. कैलाश सारंग ने समाज सेवा, संगठन के जो काम किए हैं, वह अविस्मरणीय हैं। उन्होंने कोरोना वेरिएंट के हमले की आशंका के दौर में पीड़ित मानवता की सेवा प्रकल्प के आयोजन प्रयासों की सराहना करते हुए अनुकरणीय पहल बताया।

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि फॉउण्डेशन का लक्ष्य समाज के सहयोग से चिकित्सा सुविधाओं की उपलब्धता कराना है। उन्होंने बताया कि 50 हजार घरों का सर्वे कर रोगियों को चिन्हित किया गया है। शिविर में उन्हें नि:शुल्क उपचार उपलब्ध कराया जा रहा है। देश के 42 चिकित्सा विशेषज्ञ शिविर में अपनी सेवाएँ दे रहे हैं। इनमें 5 पद्मश्री से सम्मानित चिकित्सक भी शामिल हैं। उन्होंने बताया कि शिविर में चिन्हित गम्भीर रोगियों के सुपर स्पेशलिटी उपचार की नि:शुल्क व्यवस्था की गई है।

प्रख्यात नेत्र रोग विशेषज्ञ डॉ. टी.पी. लहाने, न्यूरोसर्जन डॉ. चन्द्रशेखर देवपुजारी, केंसर रोग विशेषज्ञ डॉ. ज्योति वाजपेयी और पीडियाट्रिक न्यूरोसर्जन डॉ. पवन चावला का पुष्पगुच्छ भेंटकर स्वागत किया गया। प्रारम्भ में अतिथियों ने माँ सरस्वती, भगवान धनवंतरी और स्व. कैलाश एवं प्रसून सारंग के चित्रों पर पुष्प अर्पित कर श्रद्धांजलि दी। आभार प्रदर्शन डॉ. एस.पी. दुबे ने किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!