भोपाल

मुख्यमंत्री ने उज्जैन की अद्भुत जन-भागीदारी का मंत्रि-परिषद की बैठक में किया उल्लेख

मंत्रीगण ग्राम और नगर के गौरव दिवस कार्यक्रम के लिए रूपरेखा बनाएँ

भोपाल :

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गत एक मार्च को उज्जैन में जन सहयोग से लाखों दिए जलाने के कीर्तिमान की चर्चा करते हुए कहा कि यह प्रदेश की ऐतिहासिक उपलब्धि है। उज्जैन में इस दिन जन-भागीदारी का अद्भुत दृश्य देखने को मिला। मुख्यमंत्री ने आज मंत्रालय में मंत्रि-परिषद की बैठक से पहले बताया कि क्षिप्रा नदी के घाटों पर 11 लाख से अधिक दियों के अलावा घर-घर में भी दीपक जलाए गए। दियों की वास्तविक गणना की जाए तो ये पच्चीस लाख से अधिक होंगे। पूरा उज्जैन जगमगा रहा था। उन्होंने कहा कि ग्राम और शहर कहीं भी जन-भागीदारी से किसी भी कार्य को नया स्वरूप दिया जा सकता है। महाशिवरात्रि पर्व उज्जैन की निराली और दर्शनीय छटा थी।

गौरव दिवस

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रत्येक ग्राम और शहर का गौरव दिवस मनाया जाए। मंत्रीगण इसके लिए रूपरेखा तैयार करवाएँ। हर नागरिक में अपने शहर और ग्राम के लिए गर्व का भाव बढ़े, विकास की गति को तेज किया जाए, जन-भागीदारी से जन-कल्याण के नए आयाम स्थापित किए जाएँ। इसके लिए मंत्री नेतृत्व देते हुए कार्यक्रम आयोजित करें। मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि वे ग्राम जैत और उज्जैन के जन्म-दिवस और गौरव दिवस के अनुभव से उत्साहित हैं। अन्य ग्रामों और नगरों के लिए भी इस तरह के कार्यक्रम किए जाएँ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!