नई दिल्ली

अनुराग ठाकुर ने पहली बार आयोजित किये जा रहे खेलो इंडिया महिला हॉकी लीग का उद्घाटन किया; जमीनी स्तर पर हॉकी को बड़ा प्रोत्साहन, विजेताओं को मिलेगा 30 लाख रुपये का नकद पुरस्कार

नई दिल्ली :-

  • युवा कार्यक्रम और खेल राज्य मंत्री निसिथ प्रामाणिक और भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष नरेन्‍द्र बत्रा भी कार्यक्रम में शामिल हुए।
  • 15 से 21 दिसंबर, 2021 तक होने वाले टूर्नामेंट के पहले चरण में कुल 14 टीमें प्रतिस्पर्धा में भाग ले रही हैं।

केन्‍द्रीय युवा कार्यक्रम और खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने पहली बार आयोजित किए जा रहे राष्ट्रीय स्तर की खेलो इंडिया महिला हॉकी लीग (अंडर 21) का आज नई दिल्ली के मेजर ध्यानचंद नेशनल स्टेडियम में औपचारिक उद्घाटन किया। ठाकुर के साथ युवा कार्यक्रम और खेल राज्य मंत्री निसिथ प्रामाणिक और भारतीय ओलंपिक संघ के अध्यक्ष नरेन्‍द्र बत्रा और अन्य गणमान्य व्यक्ति भी शामिल हुए। लीग में विजेताओं के लिए 30 लाख रुपये, एमवाईएएस से 15 लाख और हॉकी इंडिया की ओर से 15 लाख रुपये का नकद पुरस्कार है।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image001YZOQ.jpg

टूर्नामेंट के 15 से 21 दिसंबर तक होने वाले पहले चरण में कुल 14 टीमें भाग ले रही हैं। पहले चरण के दौरान 42 मैच खेले जाएंगे, जबकि दूसरे और तीसरे चरण के मुकाबले अगले साल की शुरुआत में खेले जाएंगे।

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image00275K5.jpg

पहली बार राष्ट्रीय स्तर की खेलो इंडिया लीग के आयोजन के लिए भारतीय खेल प्राधिकरण और हॉकी इंडिया को संयुक्त रूप से बधाई देते हुए, ठाकुर ने इन लीगों के महत्व की बात की और कहा, “हमारे सभी एथलीट साल भर बहुत कठिन प्रशिक्षण लेते हैं, लेकिन एथलीटों के लिए यह बहुत महत्वपूर्ण है कि वे प्रतिस्पर्धा का पर्याप्तअनुभव प्राप्त करें यदि उन्हें भविष्य में बड़ी प्रतियोगिताओं के लिए खुद को तैयार करना है। इसलिएपूरे वर्ष एथलीटों को प्रतिस्पर्धा का अनुभव देने के लिए इस तरह की लीग होनामहत्वपूर्ण है।” ठाकुर ने कहा कि आगे चलकर अन्य खेल विधाओं के लिए भी लीग आयोजित की जाएंगी। उन्होंने यह भी उल्लेख किया कि 2015 के बाद ध्यानचंद स्टेडियम में आयोजित होने वाला यह पहला बड़ा कार्यक्रम है और इस प्रतिष्ठित स्थल पर खिलाड़ियों का स्वागत किया।

प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी के दृष्टिकोण को दोहराते हुए,  प्रामाणिक ने कहा, ” मोदी की दूरदर्शिता के नेतृत्व में, हम इस लीग के माध्यम से चीयर 4 इंडिया के अभियान को आगे बढ़ा रहे हैं। मेरा मानना ​​है कि ऐसे कई युवा खिलाड़ी हैं जो हमेशा सुनिश्चित करें कि हम खेल के मैदान में अपना झंडा ऊंचा रखें।”

https://static.pib.gov.in/WriteReadData/userfiles/image/image004SJ5R.jpg

आईओए अध्यक्ष बत्रा ने कहा कि हॉकी को भारत के हर हिस्से में ले जाने के मामले में लीग चमत्कार करेगी। बत्रा ने कहा,”मेरा मानना ​​है कि यह एक बड़ी पहल है। पिछले 5-6 वर्षों में एसएआईऔर युवा कार्यक्रम और खेल मंत्रालय का समर्थन बहुत बड़ा रहा है और इस सकारात्मक रवैये ने इस साल ओलंपिक में हॉकी के लिए बहुत अच्छा परिणाम प्राप्त करने में मदद की है।”

अनुराग ठाकुर और अन्य गणमान्य व्यक्तियों ने लीग के शुभारंभ से पहले युवा खिलाड़ियों के साथ बातचीत की।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!