भोपाल

यूक्रेन से लौटे मध्यप्रदेश के 225 विद्यार्थी

मुख्यमंत्री चौहान ने मंत्रि-परिषद की बैठक के पहले किया संबोधित
भारत सरकार और राज्य सरकार के प्रयासों का दिया ब्यौरा

भोपाल :

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज मंत्रि-परिषद की बैठक प्रारंभ होने के पहले बताया कि आज सुबह तक यूक्रेन से प्रदेश के 225 विद्यार्थी प्रदेश में वापस आ चुके हैं। दिल्ली स्थित मध्यप्रदेश सरकार के आवासीय आयुक्त द्वारा भी विद्यार्थियों की वापसी के संबंध में आवश्यक समन्वय किया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मैंने भी नई दिल्ली जाकर इस संबंध में अधिकारियों से चर्चा और समीक्षा की थी। राज्य सरकार द्वारा भी इस संबंध में निरंतर समीक्षा की जा रही है। मध्यप्रदेश के ऐसे परिवार जिनके बच्चे यूक्रेन में हैं, उनसे जन-प्रतिनिधि और वरिष्ठ अधिकारी भी भेंट कर रहे हैं।

मध्यप्रदेश मंत्रि-परिषद द्वारा यूक्रेन से भारतीय नागरिकों की वापसी के प्रधानमंत्री मोदी के अद्भुत प्रयासों के लिए बधाई दी गई।

मुख्यमंत्री ने बताया कि प्रधानमंत्री मोदी यूक्रेन में युद्ध की स्थितियों में फँसे भारतीय नागरिकों को सुरक्षित भारत वापस लाने के लिए भरपूर प्रयास कर रहे हैं। सी 17 विमान द्वारा भारतीय नागरिकों को वापस लाया जा रहा है। केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया के साथ ही केंद्रीय कानून और न्याय मंत्री किरन रीजिजू, केन्द्रीय आवास और शहरी मामले, पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री हरदीप पुरी और केन्द्रीय नागरिक उड्डयन, सड़क परिवहन और राजमार्ग राज्य मंत्री वी.के. सिंह सीमावर्ती देशों में भेजे गए हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि नई दिल्ली और मुंबई लौटने वाले मध्यप्रदेश के विद्यार्थियों को मध्यप्रदेश भवन, मध्यांचल और अन्य स्थानों पर ठहराने की व्यवस्था की गई है। उनके भोजन और आवश्यकता हुई तो यात्रा टिकट का प्रबंध भी किया जा रहा है।

मंत्री प्रभार के जिलों में ऐसे विद्यार्थियों के परिवारों से संपर्क करें, जिनके बच्चे अभी यूक्रेन में हैं। ऐसे परिवारों से संवाद होने से उनका हौंसला बढ़ता है। मुख्यमंत्री ने कहा कि ऐसे विद्यार्थियों की परिवारों से प्राप्त जानकारी आवासीय आयुक्त, नई दिल्ली और गृह विभाग को देकर बच्चों की वापसी के कार्य को आसान बनाया जा सकता है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!