जयपुर

राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक से राज्य में बना सामाजिक समरसता का माहौल -मुख्यमंत्री – मुख्यमंत्री ने भीम की ग्राम पंचायत लगेतखेड़ा में खिलाड़ियों का किया उत्साहवर्धन – मैदान में टीम भावना की सीख भविष्य निर्माण में निभाएगी अहम भूमिका

जयपुर डेस्क :

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि राज्य में राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेलों के जरिए सामाजिक समरसता का माहौल बना है। गांव-ढाणी की प्रतिभाओं को बड़ा मंच मिल रहा हैं। उन्होंने कहा कि खिलाड़ियों को खेल मैदान में जो टीम भावना सीखने को मिल रही है, वहीं सीख उनके भविष्य निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगी। प्रदेश में अब शहरी ओलंपिक खेलों का भी जल्द आगाज होगा। ऐसे में हर आयु वर्ग में खेलों के प्रति आकर्षण बढ़ेगा और राजस्थान खेलों में अग्रणी राज्य बनेगा।   

मुख्यमंत्री बुधवार को राजसमंद जिले के उपखंड भीम की ग्राम पंचायत लगेतखेड़ा में राजीव गांधी ग्रामीण ओलंपिक खेल के अवसर पर आयोजित समारोह को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि ग्रामीण खेल प्रतिभाओं को मौका देकर उन्हें राज्य, राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर की प्रतिस्पर्धाओं के लिए तैयार किया जा सकेगा। 

गहलोत ने कहा कि युवाओं, किसानों, बुजुर्गों सहित हर वर्ग को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए जनकल्याणकारी योजनाएं लागू की गई है। हर वर्ग के उत्थान और चहुमुंखी विकास में कोई कमी नहीं रखी गई है। मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना से प्रदेशवासियों को 10 लाख रूपये तक की चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराई जा रही है। साथ ही राज्य सरकार द्वारा ट्रांसप्लांट का खर्च स्वयं वहन किया जा रहा है। इससे गंभीर बीमारियों से पीड़ित व्यक्तियों को संबल मिला है। 

इस दौरान मुख्यमंत्री ने बाबा रामदेव मंदिर में दर्शन करने के बाद मैदान में खिलाड़ियों का उत्साहवर्धन किया। इसके साथ ही वे जनसमूह से भी रूबरू हुए और बालिकाओ से आत्मीयता से बातचीत भी की।

समारोह में जिला प्रभारी मंत्री और सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना ने कहा कि खेल आयोजन से प्रतिभाओं को आगे बढ़ने का मौका मिल रहा है। मगरा बोर्ड के अध्यक्ष लक्ष्मण सिंह ने कहा कि क्षेत्र के विकास में मुख्यमंत्री द्वारा कोई कमी नहीं रखी गई है। भीम विधायक सुदर्शन सिंह रावत ने कहा कि राज्य सरकार द्वारा क्षेत्र का सर्वागींण विकास जा रहा है। समारोह में आयुर्वेद राज्य मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग सहित स्थानीय जनप्रतिनिधिगण, प्रशासनिक अधिकारी और ग्रामीण उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!